जेमिमाह रॉड्रिग्स को








पुल लगाती हुई जेमिमाह रॉड्रिग्स © Getty Images


ऐलिमिनेटर में धमाकेदार वापसी करने के बाद ओवल इंविंसिबल्स ने सदर्न ब्रेव को हराकर महिलाओं के “द हंड्रेड” टूर्नामेंट का ख़िताब अपने नाम किया। 34 मुक़ाबलों के रोमांच के बाद ईएसपीएनक्रिकइंफ़ो की टीम ऑफ़ द टूर्नामेंट इस प्रकार है :

जेमिमाह रॉड्रिग्स : नॉर्दन सुपरचार्जर्स
रन : 249, औसत : 41.50, स्ट्राइक रेट : 150.90
भारतीय टीम के इंग्लैंड दौरे पर केवल दो मैच खेलने का मौक़ा मिलने के बाद रॉड्रिग्स इस टूर्नामेंट में अपनी छाप छोड़ना चाहती थी। 43 गेंदों में नाबाद 92 रन बनाकर उन्होंने अपने सीज़न की शुरुआत की। ग्रुप स्टेज के दौरान वह पूरे टूर्नामेंट में सबसे ज़्यादा रन बनाने वाली बल्लेबाज़ रही थी। उन्होंने कवर क्षेत्र में ख़ूब रन बनाए और हवाई शॉट्स भी लगाए। शानदार स्ट्राइक रेट से बल्लेबाज़ी करते हुए उन्होंने सभी को प्रभावित किया।

डेन वैन नीकर्क : ओवल इंविंसिबल्स, कप्तान
रन : 259, औसत : 43.16, स्ट्राइक रेट : 105.71, विकेट : 8, इकॉनमी : 1.10
टूर्नामेंट के पहले दिन कप्तानी पारी खेलते हुए टीम को जीत दिलाने वाली वैन नीकर्क ने अपनी आक्रामक कप्तानी से फ़ाइनल का रुख़ पलट दिया। बल्लेबाज़ी के दौरान उन्होंने एक छोर संभाले रखा और अपनी दो प्रमुख गेंदबाज़ – शबनिम इस्माइल और मरीज़ान काप की ग़ैर मौजूदगी में गेंद से टीम को महत्वपूर्ण सफलताएं दिलाई। बीच के ओवरों में वैन नीकर्क ने विपक्षी टीम की रन गति को कंट्रोल में रखा।

सोफ़िया डंकली : सदर्न ब्रेव
रन : 244, औसत : 40.66, स्ट्राइक रेट : 141.86
भारत के ख़िलाफ़ सीरीज़ के अपने लाजवाब फ़ॉर्म को बरक़रार रखते हुए डंकली ने सदर्न ब्रेव के लिए नंबर तीन पर बल्लेबाज़ी करते हुए बढ़िया पारियां खेली। साउथैंप्टन में खेलते हुए वह कई बार लक्ष्य का पीछा करते हुए टीम को जीत दिलाने में क़ामयाब हुई। फ़ाइनल में वह कुछ ख़ास कर नहीं पाई।

नैटली सीवर : ट्रेंट रॉकेट्स
रन : 220, औसत : 31.42, स्ट्राइक रेट : 136.64, विकेट : 3, इकॉनमी : 1.61
भले ही उनकी टीम केवल तीन मैचों में जीत दर्ज करने में सफल हुई, सीवर ने हमेशा की तरह अच्छा प्रदर्शन किया। टूर्नामेंट की अपनी पहली पांच पारियों में सीवर ने हर बार 27 से अधिक रन बनाए। नंबर तीन पर बल्लेबाज़ी करते हुए उन्होंने बल्लेबाज़ी का भार संभाला पर वह गेंद से कमाल नहीं कर पाई। अपनी बल्लेबाज़ी के दम पर वह इस टीम का हिस्सा हैं।

एमी जोंस : बर्मिंघम फ़ीनिक्स, विकेटकीपर
रन : 176, औसत : 25.14, स्ट्राइक रेट : 155.75, कैच : 1, स्टम्पिंग : 6
जोंस ने कोई मैच जिताऊ पारी नहीं खेली लेकिन मध्य क्रम में उनकी आक्रामक बल्लेबाज़ी ने एलिमिनेटर तक टीम का मार्ग आसान किया। पिछले साल इंग्लैंड के लिए मध्य क्रम में बल्लेबाज़ी की शुरुआत करने के बाद से जोंस ने ख़ुद को इस नई भूमिका में ढाल लिया हैं। विकेटों के पीछे उन्होंने कुल सात सफलताओं में अपना योगदान दिया।

ऐलिस कैप्सी : ओवल इंविंसिबल्स
रन : 150, औसत : 21.42, स्ट्राइक रेट : 126.05, विकेट : 10, इकॉनमी : 0.90
अपने 17वें जन्मदिन से ठीक पहले कैप्सी ने लॉर्ड्स में लंदन स्पिरिट के ख़िलाफ़ 59 रनों की पारी खेली और दिखाया कि वह उच्च स्तर पर खेलने के क़ाबिल हैं। अपनी ऑफ़ स्पिन से उन्होंने कई मौक़ों पर इंग्लैंड की अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ी मैडी डीविलियर्स से पहले गेंदबाज़ी की और कुल 10 विकेट झटके। जल्द ही वह अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर खेलती दिखाई दे सकती हैं।

मरीज़ान काप : ओवल इंविंसिबल्स
रन : 150, औसत : 37.50, स्ट्राइक रेट : 122.95, विकेट : 11, इकॉनमी : 0.84
चोट के कारण आधे टूर्नामेंट से बाहर बैठने के बाद भी काप ने शानदार प्रदर्शन कर इस टीम में अपनी जगह बनाई। शुक्रवार को एलिमिनेटर में उन्होंने पहले 37 रन बनाए और बाद में तीन विकेट अपने नाम किए। इसी हरफ़नमौला खेल को जारी रखते हुए काप ने फ़ाइनल में 26 रन बनाए और चार विकेट लेकर विपक्षी बल्लेबाज़ी की कमर तोड़ दी। कोविड-19 से उबरने के बाद वह इस दौरान हृदय की तकलीफ़ झेल रही थी।




© ESPNcricinfo Ltd


केट क्रॉस : मैनचेस्टर ओरिजनल्स
विकेट : 12, इकॉनमी : 1.24
मैनचेस्टर टीम की कप्तान क्रॉस ने इस टूर्नामेंट के इतिहास का पहला छक्का लगाया और उसी मैच में तीन विकेट झटके। नई गेंद से हरक़त करवाते हुए उन्होंने लगभग अपनी टीम को टॉप तीन में प्रवेश दिला दिया था।

टैश फ़ैरेंट : ओवल इंविंसिबल्स
विकेट : 18, इकॉनमी : 1.03
क्या किसी खिलाड़ी ने अपना केंद्रिय अनुबंध खोने के बाद इससे बढ़िया प्रदर्शन किया हैं? साल 2019 से अपनी धीमी गति की गेंदों और तेज़ यॉर्कर के साथ फ़ैरेंट इंग्लैंड की सबसे अच्छी डेथ-गेंदबाज़ों में से एक हैं। उन्होंने इस टूर्नामेंट में सबसे ज़्यादा विकेट अपने नाम किए।

लॉरेन बेल : सदर्न ब्रेव
विकेट : 12, इकॉनमी : 1.15
इस तेज़ गेंदबाज़ को पूरे सीज़न में नई गेंद से इन स्विंग मिली। साथ ही उन्होंने अपनी धीमी गेंदों से बल्लेबाज़ों को छकाया और इंग्लैंड टीम के लिए अपनी दावेदारी पेश की।

कर्स्टी गॉर्डन : बर्मिंघम फ़ीनिक्स
विकेट : 15, इकॉनमी : 1.24
कुल नौ मुक़ाबलों में शिरक़त करते हुए गॉर्डन आठ मैचों में बल्लेबाज़ों को पवेलियन का रास्ता दिखाने में कामयाब रही। उन्होंने हेदर नाइट, लिज़ेल ली और सीवर जैसे टॉप बल्लेबाज़ों को चलता किया और वह फ़ीनिक्स के लिए एक अहम गेंदबाज़ बनकर उभरी।

मैट रॉलर (@mroller98) ESPNcricinfo में असिस्टेंट एडिटर हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी के सब एडिटर अफ़्ज़ल जिवानी ने किया है।


©
ESPN Sports Media Ltd.





Source link

About Daily Multan

Check Also

Kate Cross embraces ‘mindset shift’ as England Women seek attacking new era

Kate Cross says England Women are ready to embrace a more aggressive approach under the …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *